इन योगासनों के जरिए थायराइड को करें कंट्रोल

इंडिया न्यूज:
थायराइड एक ऐसी बीमारी है जो दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। पुरुषों की तुलना में इस बीमारी की चपेट में ज्यादातर महिलाएं आती हैं। थायराइड की समस्या लाइलाज नहीं है लेकिन समय रहते इसे कंट्रोल न किया जाए तो ये अन्य समस्याओं की वजह जरूर बन सकती है। वहीं माना जाता है कि थायराइड के उपचार में योग फायदेमंद माना जाता है। तो आइए जानते हैं थायराइड को कौन से योगासनों के जरिए कंट्रोल किया जा सकता है।

थायराइड के लक्षण

  • वजन का लगातार बढ़ना।
  • वजन का लगातार कम होना।
  • गले में सूजन होना।
  • हृदय गति में बदलाव होना।
  • मूड स्विंग होना।

थाइराइड में फायदेमंद योग

Control thyroid through these yogasanas

सर्वांगासन: सर्वांगासन को थायराइड के उपचार में बहुत असरदार आसन माना जाता है। इस आसन में पैर ऊपर और सिर नीचे की ओर होता है जिससे ऊपरी अंगों में ब्लड का सकुर्लेशन सही तरीके से हो पाता है। इस आसन को अभ्यास से थायराइड ग्लैंड एक्टिव होता है और उसकी कार्यक्षमता में सुधार होता है।

हलासन: हलासन से थायराइड और पिट्यूटरी ग्रंथियों की कार्यक्षमता में सुधार करता है। ये आसन रीढ़ की हड्डी के लिए भी बहुत ही फायदेमंद है। इसके अलावा यह पेट की चर्बी को भी कम करने में कारगर है। इस आसन को करने से मांसपेशियों का तनाव भी कम होता है।

मत्स्यासन: पीछे की ओर झुकने वाला यह आसन गले, छाती, कंधों, पेट को फैलाता है और खोलता है। योग की यह मुद्रा पेट और शरीर के ऊपरी अंगों को एक्टिव करती है जिससे वो सही तरीके से अपना काम कर पाते हैं।

Control thyroid through these yogasanas

ये भी पढ़ें : आंखों में कॉन्टेक्ट लेंस पहनते समय इन बातों का रखें ध्यान

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !
 

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

SHARE
Latest news
Related news