रिजॉइस हेल्थ फाउंडेशन ने दीनदयाल अस्पताल को 15000 मैटरनिटी-सेनेटरी पैड दिए दान

इंडिया न्यूज़ (दिल्ली, rejoice health foundation distribute sanitary pads): दिल्ली के दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल को रिजॉइस हेल्थ फाउंडेशन (RHF) ने गर्भवती महिलाओं के लिए 15000 मैटरनिटी और सैनेटरी पैड दान किए। इस दौरान प्रसूता वार्ड में दर्जनों महिलाओं को मैटरनिटी और सैनेटरी पैड बांटे गए। रिजॉइस हेल्थ फाउंडेशन की ओर से डॉक्टर सनी कुमार, श्रीमती कुसुम, विकास मिश्रा समेत कई डॉक्टर्स ने प्रसूति एवं स्त्री रोग वार्ड में प्रसूताओं को ये पैड दिए.

रिजॉइस हेल्थ फाउंडेशन की टीम ने तमाम महिलाओं को दोनों पैड की आवश्यकता, उपयोगिता और निपटान के बारे में अहम जानकारी दी। मैटरनिटी पैड के 1 पैकेट में 5 पीस होते हैं और हर महिला को ऐसे 2 पैक दिए गए.

RHF

इस मौके पर रिजॉइस हेल्थ फाउंडेशन (RHF) के अध्यक्ष डॉ. नवल कुमार वर्मा और संस्थापक अध्यक्ष डॉ प्रीति वर्मा ने कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कर्नल बलराम कुमार ओबेरॉय का सहयोग करने के लिए धन्यवाद किया। डॉ नवल कुमार वर्मा ने मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ बीएल चौधरी और कंसलटेंट फिज़ीशियन डॉ अवतार सिंह को सम्मानित किया.

जागरूकता अभियान भी चलाया 

रिजॉइस हेल्थ फाउंडेशन (RHF) ने ONGC की मदद से मासिक धर्म और मातृ स्वच्छता के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए ये अहम पहल की है। मैटरनिटी पैड और सेनेटरी पैड की मदद से लाखों महिलाओं को जटिलता बीमारियों और संक्रमणों से बचाया जा सकता है.

डॉक्टर्स के मुताबिक पीरियड्स के दौरान स्पच्छता से नहीं रहने से वैजाइनल इंफेक्शन, सर्वाइकल कैंसर, सर्विक्स इनफैक्शन और फैलोपियन ट्यूब और ओवरी का इंफेक्शन जैसी गंभीर बीमारी हो सकती है। हाल ही में किए गए एक अध्ययन के मुताबक देश की लगभग 62% महिलाएं पीरियड्स के समय कपड़े का इस्तेमाल करती हैं.

ऐसे में रिजॉइस हेल्थ फाउंडेशन की महिलाओं में मुफ्त मैटरनिटी और सेनेटरी पैड बांटने की मुहिम वाकई काबिले तारीफ है। जिन महिलाओं को ये पैड दिए गए उन्होंने डॉक्टर्स का खुले दिल से धन्यवाद किया.

Latest news
Related news