कृषि कानूनों का विरोध, करनाल में जुटे हजारों किसान

अनाज मंडी करनाल में लगा किसानों का जमावड़ा
किसान नेता गुरनाम चढूनी सहित प्रमुख नेता मंच पर उपस्थित
इंडिया न्यूज, करनाल:
केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ उत्तरप्रदेश के बाद मंगलवार को हरियाणा के करनाल में किसान अपना विरोध जताते हुए महापंचायत कर रहे हैं। किसान संगठनों के आह्वान पर ने केवल पूरे प्रदेश व बल्कि अन्य प्रदेशों के किसान भी इस महापंचायत में शिरकत कर रहे हैं। अनाज मंडी में आयोजित महापंचायत में भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष गुरनाम चढूनी मंच पर पहुंच गए हैं। महापंचायत में हजारों की संख्या में किसान पहुंचे हैं। अल सुबह ही करनाल अनाज मंडी में किसानों का जमावड़ा शुरू हो गया। दिन चढ़ते ही भारी संख्या में किसान पंडाल में एकत्रित हो चुके थे। किसानों में जहां देश व प्रदेश सरकार के खिलाफ गुस्सा दिख रहा था वहीं वे कृषि कानूनों को पूरी तरह रद कराने के लिए भी संगठित दिखे। ज्ञात रहे कि इससे पहले किसान संगठनों के आह्वान पर यूपी में भी महापंचायत का आयोजन हो चुका है जहां से 27 सितंबर को भारत बंद का ऐलान किया गया था। वहीं मंगलवार को करनाल सहित अन्य जिलों में सुबह के समय हल्की बारिश हुई परंतु इस बारिश में भी किसानों के उत्साह में कोई कमी नहीं दिखाई दी।

प्रशासन ने की पूरी तैयारी

किसानों की महापंचायत के चलते जिला प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट दिखा
शहर से जिन रास्तों से जीटी रोड पर चढ़ा जा सकता है, उन सभी बिंदुओं पर बड़ी संख्या में बैरिकेड रख दिए गए हैं। महापंचायत के बाद किसानों का अगला लक्ष्य लघु सचिवालय पहुंचने का है। इस कारण यहां जीटी रोड के निर्मल कुटिया चौक से लघु सचिवालय गेट तक बैरिकेड के ढेर लगा दिए गए हैं। वहीं जिले में इंटरनेट सेवाएं पूरी तरह से बंद कर दी गई हैं।

Latest news
Related news