हरियाणा के किसान संगठन 11 को बनाएंगे आगामी रणनीति

जिला सचिवालय समक्ष बनने लगे लोहे के शेड
जोगिंद्र उंगराहा बोले-करनाल की मोचाबंर्दी को सिघु बार्डर जैसी मजबुत बना देंगे
रमेश सरोए
इंडिया न्यूज, करनाल:
जिला सचिवालय के समक्ष किसान आंदोलन का गुरुवार को तीसरा दिन है और आंदोलन का दायरा लगातार बढ़ता जा रहा है। गुरुवार को पंजाब के किसान नेता जोगिंद्र उंगराहा हजारों किसानों के साथ जिला सचिवालय के समक्ष चल रहे आंदोलन के बीच पहुंचे। उधर किसानों ने आंदोलन को लम्बा चलने की संभावना को देखते हुए पक्की मोचार्बंदी के लिए लोहे के शेड लगाने शुरू कर दिए हैं।

Read More करनाल में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं आज 12 बजे तक बंद

किसान नेता जोगिंद्र उंंगराहा ने कहा कि दिल्ली में भी मोचार्बंदी चालू रहेंगी ओर अब करनाल में भी मजबूत मोचार्बंदी जारी रहेंगी। उन्होंने कहा कि जब तक सरकार अधिकारी पर कार्रवाई नहीं करती, तब तक आंदोलन जारी रहेगा। सिंघु बॉर्डर जैसा माहौल रहेगा, जो किसान दिल्ली के आंदोलन में शामिल होने के लिए जाएगे, वो यहां पर रूककर जाएंगे और जो किसान दिल्ली से वापस लौटेंगे तो करनाल में चल रहे आंदोलन में भागीदारी करेंगे। उधर, किसान नेता सुरेश कौथ ने कहा कि 11 अगस्त को हरियाणा के किसान संगठनों की बैठक करनाल में आयोजित होगी जिसमें आंदोलन को लेकर आगामी रणनीति बनाई जाएगी। यूएसए के डॉ. स्वयं मान सिंह किसानों के लिए अस्थाई रूप से वाटरप्रूफ घर बनाने में जुटे हुए हैं। उन्होंने कहा कि करीब 200 अस्थाई घर सिंघु बॉर्डर पर बनाए है । यहां पर ऐसे ही घर बनाए जाएंगे, ताकि किसान आराम कर सकें।

Latest news
Related news