मुख्यमंत्री भूपेश पटेल ने गिफ्ट सिटी में विश्व प्रसिद्ध आईटी कंपनी आईबीएम की सॉफ्टवेयर लैब का किया शुभारंभ

इस समारोह में कई गणमान्य लोग उपस्थित रहे.

इंडिया न्यूज़ (गांधीनगर, Gujarat CM inaugurate software lab in gift city): मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने गुरुवार को गांधीनगर स्थित गिफ्ट सिटी (गुजरात इंटरनेशनल फाइनेंस टेक-सिटी) में विश्व प्रसिद्ध अमेरिकी कंपनी आईबीएम (इंटरनेशनल बिजनेस मशीन्स कॉर्प) की सॉफ्टवेयर लैब का शुभारंभ करते हुए स्पष्ट तौर पर कहा कि प्रधानमंत्री के डिजिटल इंडिया मिशन के अंतर्गत गुजरात ने डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन में एक नया बेंचमार्क स्थापित किया है.

इस संदर्भ में उन्होंने कहा कि “प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट गिफ्ट सिटी में कार्यरत हो रही आईबीएम की सॉफ्टवेयर लैब गुजरात में क्लाउड और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) के लिए कुशल मानव बल तैयार करने में नया बल प्रदान करेगी।”

bhupendra patel in lab
लैब का निरीक्षण करते मुख्यमंत्री.

मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने राज्य के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी (आईटी) मंत्री जीतूभाई वाघाणी, आईबीएम के वरिष्ठ उपाध्यक्ष टॉम रोसामिलिया और निकल लामोरोक्स की विशेष उपस्थिति में गिफ्ट सिटी के प्रेस्टीज टावर में कार्यरत हो रही आईबीएम सॉफ्टवेयर लैब का उद्घाटन किया.

इस अवसर पर मुख्य सचिव पंकज कुमार, आईबीएम प्रबंध निदेशक (भारत और दक्षिण एशिया) संदीप पटेल, गिफ्ट सिटी के चेयरमैन सुधीर मांकड़, प्रबंध निदेशक तपन रे तथा आईटी सचिव विजय नेहरा एवं आमंत्रित अतिथि गण उपस्थित रहे.

गुजरात कौशल विकास में योगदान को तत्पर

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने युवा शक्ति के आईटी सामर्थ्य के भरोसे इस दशक को टेक्नोलॉजी का दशक बनाने का जो संकल्प किया है, उसमें गुजरात भी ‘स्किल बेस्ड लर्निंग’ अर्थात कौशल आधारित शिक्षा के जरिए अपना योगदान देने को तत्पर है.

IBM Lab
आईबीएम की सॉफ्टवेयर लैब (PHOTO :Twitter).

भूपेंद्र पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में गुजरात में इस सरकार ने नई आईटी एंड आईटीईएस नीति बनाई है। उन्होंने कहा कि हमारा मकसद इस नीति के माध्यम से राज्य के आईटी इकोसिस्टम के विकास का एक अनुकूल माहौल तैयार करना है.

मुख्यमंत्री ने गुजरात में आईटी सेक्टर के लिए निर्धारित किए गए आठ गुना विकास के लक्ष्य का जिक्र करते हुए कहा कि गुजरात में ऐसा सुदृढ़ आईटी इंफ्रास्ट्रक्चर विकसित किया है कि इस क्षेत्र में निवेश के लिए गुजरात आने वाले हरेक के चेहरे पर हमेशा मुस्कान बनी रहे और उन्हें ईज ऑफ डूइंग बिजनेस यानी कारोबार सुगमता की अनुभूति हो.

उन्होंने प्रधानमंत्री के विकसित भारत के संकल्प की पूर्ति के लिए आजादी के इस अमृत काल में आईटी क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान के जरिए ‘आत्मनिर्भर गुजरात से आत्मनिर्भर भारत’ के संकल्प को साकार करने की प्रतिबद्धता व्यक्त की.

डिजिटल सुशासन स्थापित हो रहा

मुख्य सचिव पंकज कुमार ने कहा कि गुजरात में मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल के मार्गदर्शन में आईटी एंड आईटीईएस पॉलिसी, आईटी आधारित सेवाओं तथा पारदर्शी एवं डिजिटल सुशासन के आयाम सफलतापूर्वक स्थापित हो रहे हैं.

आईबीएम के टॉम रोसामिलिया ने गुजरात और भारत के साथ अपने व्यावसायिक उपक्रमों की सफलता की उम्मीद व्यक्त करते हुए गुजरात सरकार से प्राप्त हो रहे सहयोग के लिए आभार जताया.

कंपनी के प्रबंध निदेशक संदीप पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मंत्र आईटी (इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी) प्लस आईटी (इंडियन टैलेंट) बराबर आईटी (इंडिया टुमारो) को चरितार्थ करने के लिए गुजरात ने आईसीटी (सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी) इंफ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में नेतृत्व करते हुए इस क्षेत्र में व्यापक निवेश हासिल किया है और अब आईबीएम भी इस कड़ी में जुड़ गया है.

गिफ्ट सिटी के प्रबंध निदेशक तपन रे तथा आईटी सचिव विजय नेहरा ने आईबीएम को गिफ्ट सिटी और राज्य सरकार के संपूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया.

Latest news
Related news