Birthday special : 88 साल की हुईं भारत की ‘क्वीन ऑफ पॉप’ आशा भोंसले

इंडिया न्यूज, मुंबई:
Happy Birthday Asha Bhosle: फिल्म इंडस्ट्री की दिग्गज सिंगर और सुरों की धनी आशा भोसले (Asha Bhosle) 8 सितंबर को अपना 88वां जन्मदिन मना रही हैं। उन्होंने 20 भाषाओं 15 हजार से अधिक गाने गाए हैं। लेकिन कम ही लोग जानते हैं कि आशा ने 10 साल की उम्र में गाना शुरू किया था। उन्होंने अभी तक 15 हजार से अधिक गाने रिकॉर्ड किए हैं जिनमें से अधिकतर हिट रहे हैं। आशा ने पहली शादी साल 1949 में गणपत राव भोसले से की थी। उस वक्त वे महज 16 साल की थीं और गणपत 31 साल के थे। हालांकि ससुराल वालों ने उन्हें खासा परेशान किया और उनके साथ घरेलू हिंसा की। इतना ही नहीं, ससुराल पक्ष ने आशा को घर से बाहर निकाल दिया था। खबरें ऐसी भी हैं कि गणपत आशा की बहन लता के सेक्रेटरी थे। जब आशा ने गणपत से शादी की तो लता ने आशा से बात करना बंद कर दिया था। इसके बाद आशा अपने मायके वापस आ गईं। आशा ने साल 1980 में राहुल देव बर्मन यानी कि पंचम दा से शादी की। बर्मन आशा से 6 साल छोटे थे। जब पंचम दा ने ये बात अपनी मां को बताई तो उनकी मां खफा हो गईं। उनकी मां ने इस शादी के लिए साफ इनकार कर दिया। इस रिश्ते से आरडी बर्मन की मां इतनी नाराज थीं कि उन्होंने साफ कह दिया, जब तक वो जिंदा हैं, तब तक दोनों की शादी नहीं हो सकती और अगर वो ये शादी करना चाहते हैं तो आशा को अपनी मां की लाश के ऊपर से घर में लाना होगा। आशा भोसले ने आरडी बर्मन के साथ कई हिट गाने दिए। इनमें डांस नंबर ‘आजा आजा’, ‘ओ हसीना जुल्फों वाली’, ओ मेरे सोना रे जैसे कई हिट गाने शामिल हैं। इस दौर में आशा भोसले और आरडी बर्मन की जोड़ी को सुपरहिट का तमगा मिल गया था।

इन-इन भाषाओं में गाए हैं गाने

हिंदी के अलावा भी आशा कई भाषाओं के गानों को अपनी आवाज दे चुकी हैं। आशा ने पंजाबी, भोजपुरी, तमिल, मलयालम, मराठी, बंगाली, गुजराती, अंग्रेजी के साथ-साथ रूसी भाषा में भी गाने गाए हैं। आशा भोसले के नाम सबसे ज्यादा रिकॉर्डिंग करने का गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड है। साल 2006 में आशा ने बताया था कि उन्होंने अपने करियर में 12,000 गाने गाए हैं, जिनमें सोलो, डुएट और मल्टीप्ल सिंगर्स के साथ गाए गाने शामिल हैं। उन्होंने हिंदी के अलावा मराठी, बंगाली, गुजराती, पंजाबी, तमिल, मलयालम भाषा में गाने गाए हैं। साथ ही उन्होंने अंग्रेजी और रूसी भाषा में भी गानों को अपनी आवाज दी है। आशा भोंसले को अपने संगीत सफर के लिए कई पुरस्कार मिल चुके हैं। उन्हें साल 1981 में फिल्म उमराव जान के गाने ‘दिल चीज क्या है’ और साल 1986 में फिल्म इजाजत के गाने ‘मेरा कुछ सामान’ के लिए दो बार नेशनल फिल्म अवॉर्ड मिला। वहीं साल 2000 में उन्हें ‘दादा साहेब फाल्के अवार्ड’ से सम्मानित किया गया। साल 2005 में भारत सरकार ने उन्हें पद्मविभूषण सम्मान से नवाजा। इसके अलावा आशा भोसले को सात बार फिल्मफेयर पुरस्कार मिल चुका है।

SHARE
Latest news
Related news