शनि की ढैय्या-साढ़ेसाती का है प्रकोप तो घर के मुख्य द्वार पर लगाएं ये चीज, प्रसन्न होंगे शनिदेव

Vastu Tips: वास्तु शास्त्र के मुताबिक घर में रखी हुई हर चीज में एक ऊर्जा मौजूद होती है। कुछ चीजों में नकारात्मक ऊर्जा और कुछ चीजों में सकारात्मक ऊर्जा होती है। वास्तु शास्त्र में घर से नकारात्मक ऊर्जा को दूर रखने के लिए कई उपाय बताए गए हैं। जिनमें से घोड़े की नाल का भी एक उपाय होता है। घोड़े की नाल को नजर विरोधी माना जाता है। कहा जाता है कि घोड़े की नाल हमारे घर को हर बुरी नजर से बचाती है। वास्तु शास्त्र में घर के बाहर घोड़े की नाल लटकाना बेहद ही शुभ माना जाता है। आइए आपको बताते हैं कि घोड़े की नाल किस तरह से हमें फायदा पहुंचाती है।

घर के बाहर घोड़े की नाल लगाने के फायदे 

  1. घर के मुख्य द्वार पर घोड़े की नाल लगाने से आर्थिक समस्याओं से निजात मिलता है। ऐसा करने से कुछ ही दिनों में बेहद लाभ मिलता है। इसे मुख्य द्वार पर लगाने से धन प्राप्ति के मार्ग बनने लगते हैं।
  2. घोड़े की नाल लोहे से बनी हुई होती है और लोहा को शनिदेव का धातु माना जाता है। घर के मेन गेट पर लोहे की नाल लगाने से शनि का प्रकोप खत्म होता है। अगर आप शनि दोष से परेशान हैं तो घर के गेट पर घोड़े की नाल जरूर लटकाएं।
  3. जिनके ऊपर शनि की ढैय्या और साढ़ेसाती हो। उन लोगों को काले घोड़े की घिसी हुई नाल की अंगूठी पहननी चाहिए। इससे शनिदेव प्रसन्न हो जाते हैं। शनिवार के दिन इस अंगूठी को बीच वाली उंगली में पहनें।
  4. वास्तुशास्त्र के मुताबिक जिनके घर का मुख्य द्वार उत्तर, पश्चिम या फिर उत्तर-पश्चिम दिशा में हो वह अपने घर के मुख्य द्वार पर काले घोड़े का नाल टांगे।
  5. काले कपड़े में बांधकर घोड़े की नाल को तिजोरी में रखने धन की वृद्धि होती है। साथ ही जीवन में तरक्की लाती है।
  6. काले घोड़े की नाल को घर के मुख्य द्वार पर यू आकार में टांगने से परिवार में सकारात्मक माहौल बना रहता है।

Also Read: श्रीमद्भागवत गीता में कहा गया है कि मनुष्य का सर्वश्रेष्ठ मित्र है दुख, दिखावे के लिए न बनें अच्छा

Latest news
Related news