SCO सम्मेलन में आमने-सामने होंगे पीएम मोदी और इमरान

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली:
प्रधानमंत्री मोदी 16 और 17 सितंबर को शंघाई कोआपरेशन आगेर्नाइजेशन की समिट में भाग लेंगे और एक बार फिर से आतंकवाद का मुद्दा उठाएंगे।इस समिट में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भी हिस्सा लेंगे। पाकिस्तान ने जिस तरह अफगानिस्तान में तालिबान का साथ दिया है, उम्मीद है कि भारत इस सम्मेलन में पाकिस्तान के काले कारनामों को उजागर कर सकता है। यह सम्मेलन ताजिकिस्तान की राजधानी दुशांबे में होगी। हालांकि इस समिट में नरेंद्र मोदी वर्चुअली स्पीच देंगे। वहीं चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग भी वर्चुअली जुड़ेंगे। इसके अलावा समिट में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन और सेंट्रल एशियन कंट्रीज के राष्ट्राध्यक्ष मौजूद रहेंगे। आपको बता दें कि भारत, चीन, रूस, पाकिस्तान, ताजिकिस्तान, उज्बेकिस्तान, कजाकिस्तान और किर्गिस्तान एससीओ के सदस्य हैं।

बता दें कि भारत की अध्यक्षता में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में ये बात रखी गई थी कि अफगानिस्तान की जमीन का इस्तेमाल आतंकवादियों को शरण देने के लिए नहीं किया जाएगा। यह भी कहा गया था कि तालिबान अपने उस वादे को पूरा करेगा, जिसमें कहा गया था कि अफगानिस्तान से सभी विदेशी नागरिक सुरक्षित बाहर भेजे जाएंगे।

Latest news
Related news