जावेद अख्तर ने आरएसएस की तुलना तालिबान से की

एक न्यूज पोर्टल से बात करते हुए दिया विवादित बयान
इंडिया न्यूज, दिल्ली:

मशहूद गायक और लेखक जावेद अख्तर एक बार फिर विवादों में है। दरअसल उन्होंने एक विवादित बयान दिया है, उन्होंने एक न्यूज पोर्टल से बात करते हुए तालिबान की तुलना आरएसएस वीएचपी और बजरंग दल के साथ की है। जावेद अख्तर का यह वक्तव्य बीजेपी के यूथ विंग को पसंद नहीं आया और कई युवा नेता जावेद अख्तर के जुहू स्थित घर पर विरोध प्रदर्शन करने पहुंच गए। उनका कहना है, आरएसएस सभी लोगों की बुरे दौर में सहायता करता है, जावेद अख्तर कैसे तालिबान की तुलना आरएसएस से कर सकते हैं’ उन्हें माफी मांगनी ही होगी’ यह बहुत ही शर्मनाक है कि इतना पढ़ा लिखा आदमी इस प्रकार का वक्तव्य दे सकता है’’ इस प्रकार के बयान जावेद अख्तर के घर के बाहर प्रदर्शनकारी दे रहे हैं।
उल्लेखनीय है कि न्यूज पोर्टल से बात करते हुए जावेद अख्तर ने भारत को सेकुलर देश बताया है। उन्होंने यह भी कहा है, ‘भारत एक सेकुलर देश है लेकिन कई लोग ऐसे भी हैं जो आरएसएस और वीएचपी को सपोर्ट करते हैं’ जिनकी आईडियोलॉजी 1930 के नाजी के समान है’’। जावेद अख्तर का इन दिनों कंगना रनोट के साथ विवाद भी चल रहा है’ उन्होंने कंगना रनोट पर मानहानि का केस भी किया है। मुंबई उच्च न्यायालय ने कंगना रनोट के केस को रद्द करने की याचिका की सुनवाई पूरी कर ली है और फैसला सुरक्षित रख लिया है। जावेद अख्तर विवादित बयान देते रहते हैं’ उनके बयानों का सोशल मीडिया से लेकर पर भी विरोध किया जाता है। जावेद अख्तर फिल्म लेखक हैं। उन्होंने कई फिल्मों के गीत भी लिखे हैं। वह सोशल मीडिया पर भी काफी सक्रिय हैं। वह अक्सर अपने विचार सोशल मीडिया पर व्यक्त करते हैं’

 

Latest news
Related news