Hijab Controversy : हिजाब में लड़कियों को परीक्षा में बैठाने वाले सात शिक्षकों को सरकार ने किया निलंबित

इंडिया न्यूज, बेंगलुरु।
Hijab Controversy :
जैसा की आप जानते ही हैं कि कर्नाटक में हिजाब को लेकर काफी समय से विवाद चल रहा है। इसी दौरान गडग जिले में कथित तौर पर हिजाब पहने लड़कियों को 10वीं की बोर्ड परीक्षा में बैठने की अनुमति देने वाले सात शिक्षकों को निलंबित कर दिया गया है।

शिक्षा विभाग ने यह जानकारी दी है। निलंबित शिक्षक सीएस पाटिल स्कूल में परीक्षा पर्यवेक्षक थे। उन्होंने बताया कि दो अन्य शिक्षक जो केंद्र अधीक्षक थे उन्हें भी निलंबित किया गया है।

कर्नाटक हाई कोर्ट के आदेशों की कि थी खिलाफत Hijab Controversy

कार्रवाई इसलिए की गई क्योंकि यह कर्नाटक हाई कोर्ट के उस आदेश के खिलाफ था जिसमें उडुपी गवर्नमेंट प्री-यूनिवर्सिटी गर्ल्स कालेज की मुस्लिम लड़कियों की याचिकाओं को खारिज कर दिया गया था।

 

लड़कियों ने हिजाब या शांति, सद्भाव और सार्वजनिक व्यवस्था को भंग करने वाले किसी भी कपड़े पर प्रतिबंध लगाने के सरकारी आदेश को चुनौती दी थी। अदालत ने कहा था कि हिजाब एक आवश्यक धार्मिक प्रथा नहीं है और छात्रों को स्कूल की वर्दी के नियमों का पालन करना होगा।

40 मुस्लिम छात्राओं ने छोड़ दी थी परीक्षा Hijab Controversy

आपको बता दें कि कर्नाटक के उडुपी जिले की 40 मुस्लिम छात्राओं ने मंगलवार को पहली प्री-यूनिवर्सिटी परीक्षा छोड़ दी क्योंकि वे हाल में आए हाई कोर्ट के उस आदेश से कथित तौर पर आहत थीं जिसके मुताबिक कक्षा के भीतर हिजाब पहनकर प्रवेश को मंजूरी नहीं दी गई थी।

हिजाब पहनकर पहुंचीं थी परीक्षा केंद्र

जानकारी अनुसार ये छात्राएं कक्षा में हिजाब पहनने पर कानूनी लड़ाई में शामिल थीं। इन लड़कियों ने पहले तो प्रायोगिक परीक्षा भी छोड़ दी थी। वहीं आर एन शेट्टी पीयू कालेज में 28 मुस्लिम छात्राओं में से 13 परीक्षा में उपस्थित हुईं। कुछ छात्राएं हिजाब पहनकर परीक्षा केंद्र पहुंची लेकिन उन्हें प्रवेश करने की अनुमति नहीं मिली। Hijab Controversy

Read More : Sidhu Target AAP : चंडीगढ़ पंजाब के हाथ से चला गया और नई सरकार सांसदों के सौदे कर रही है : नवजोत सिद्धू

Also Read : Corona Update : दिल्ली में अब मास्क न लगाने पर नहीं लगेगा जुमार्ना, महामारी एक्ट रहेगा जारी

Connect With Us: Twitter Facebook
Latest news
Related news