Delhi Crime: दरिंदगी का शिकार हुए नाबालिग ने तोड़ा दम, कुकर्म कर प्राइवेट पार्ट में डाली थी रॉड

Delhi Crime: 3 Minors physically assaulted and sodomised allegedly a 10-Year-Old Boy Of Seelampur Area Delhi, The boy passed away Today

Delhi Crime: देश की राजधानी दिल्ली में अब सिर्फ लड़कियां ही नहीं ब्लकि लड़के भी दरिंगदी का शिकार हो रहे हैं। 18 सितंबर को एक 10 साल के बच्चे के साथ उसके तीन नाबालिग दोस्तों ने कुकर्म किया था। 13 दिन बाद शनिवार को इलाज के दौरान इस बच्चे की मौत हो गई है। दिल्ली के एलएनजेपी अस्पताल में बच्चे ने दम तोड़ दिया है।

दरअसल, 18 सितंबर को उसके 3 दोस्तों ने दोस्तों ने उसका अपहरण कर उसके साथ दुष्कर्म किया था। बताया जा रहा है कि बच्चे को खूब पिटा गया था। जिसके बाद नाबालिग आरोपियों ने बच्चे के प्राइवेट पार्ट में लोहे की रॉड भी डाली थी। 13 दिने के बाद शनिवार की सुबह इलाज के दौरान बच्चे की मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

प्राइवेट पार्ट में डाली थी लोहे की रॉड

जानकारी दे दें कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली के सीलमपुर इलाके में 10 साल के नाबालिग बच्चे के साथ तीन लड़कों ने दुष्कर्म किया। जिसके बाद उन हैवानों ने उसके प्राइवेट पार्ट में लोहे की रॉड डाल दी। मासूम बच्चे को रॉड और ईंट से बूरी तरह पीटा गया। छात्र ने डर की वजह से किसी को कुछ भी नहीं बताया। बच्चे की हालत गंभीर होने के बाद परिजन उसे अस्पताल लेकर गए। जिसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई।

22 तारीख को अचानक बिगड़ी तबीयत

आपको बता दें कि पीड़ित छात्र परिवार के साथ सीलमपुर इलाके में रहता था। बच्चे के परिवार में माता-पिता और अन्य सदस्य हैं। बच्चा सरकारी स्कूल में पांचवीं कक्षा का छात्र था। आरोप है कि 18 सितंबर को आरोपी उसे सूनसान जगह पर ले गए और वरादात को अंजाम दिया। छात्र किसी तरह घर पहुंचा, लेकिन बच्चे ने घर पहुंचकर उसने किसी को कुछ नहीं बताया। परिजनों ने जब उससे पूछा तो उसने झगड़े की बात कही। जिसके बाद 22 सितंबर को अचानक मासूम की तबीयत खराब हो गई। परिवार को इस पूरे मामले का पता अस्पताल में चला और वहीं से पुलिस को जानकारी मिली।

दो नाबालिग आरोपी गिरफ्तार

बता दें कि परिवार ने पहले तो मामला दर्ज कराने से मना कर दिया था। लेकिन काउंसलिंग कराने के बाद परिवार वाले शिकायत दर्ज कराने को तैयार हो गए थे। पुलिस ने दुष्कर्म और पॉक्सो सहित कई अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज कर दो नाबालिग लड़कों गिरफ्तार किया। जेजे बोर्ड में दोनों आरोपी लड़कों की पेशी हुई, जहां से दोनों को बाल सुधार गृह भेज दिया गया।

Also Read: Kanpur Girls Hostel Case: हॉस्टल की वार्डन-केयर टेकर गिरफ्तार, मामले की छानबीन में जुटी पुलिस

Latest news
Related news