एक दिन में 6 हजार से अधिक बार हैक करने की कोशिश, Delhi AIIMS के बाद ICMR की वेबसाइट पर साइबर अटैक

इंडिया न्यूज़ (दिल्ली) : हाल ही में दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) की वेबसाइट को हैक कर लिए जाने की घटना के बाद एक बार फिर हैकरों ने दिल्ली के एक बड़े संस्थान पर हमला बोलने की कोशिश की। हालांकि हैकर्स इस बार अपने मंसूबों में नाकामयाब रहे। ज्ञात हो, एम्स के बाद हैकरों ने हमला भारतीय चिकित्सा अनुसंधान (ICMR) पर बोला गया था।

हांगकांग के हैकरों ने की यह करतूत

जानकारी दें, एक सरकारी अधिकारी ने मीडिया को बताया कि हैकरों ने कथित तौर पर शीर्ष स्वास्थ्य अनुसंधान निकाय आईसीएमआर की वेबसाइट को हैक करने की कोशिश की, लेकिन उनके प्रयासों को विफल कर दिया गया। अधिकारी ने ये भी कहा कि जाहिर तौर पर हांगकांग के हैकरों ने 30 नवंबर को 24 घंटे के अंतराल में करीब 6000 बार भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद की वेबसाइट पर हमला करने की कोशिश की।

आईसीएमआर वेबसाइट की डेटा सुरक्षित

ये हमले कथित रैंसमवेयर हमले के बाद हुए हैं, जिसने यहां एम्स की ऑनलाइन सेवाओं को ठप कर दिया था। अधिकारी ने कहा, “आईसीएमआर वेबसाइट की सामग्री सुरक्षित है। साइट एनआईसी डेटा सेंटर पर होस्ट की गई है, इसलिए फ़ायरवॉल एनआईसी से है जिसे वे नियमित रूप से अपडेट करते हैं। हमले को सफलतापूर्वक रोका गया है।”

AIIMS और ICMR के अलावा कई अन्य संस्थानों को बनाया निशाना

ज्ञात हो, एम्स के अलावा हैकरों ने दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल, जलशक्ति मंत्रालय, तमिलनाडु के श्री सरन मेडिकल सेंटर पर भी हमला बोला था। तमिलनाडु के अस्पताल के डेढ़ लाख मरीजों का निजी डेटा हैकरों ने बेच दिया।

हैकिंग की वजह से पूरा सिस्टम Manual तरीके से ऑपरेट हुआ

जानकारी दें, एम्स में सर्वर डाउन होने के कारण आपातकालीन, आउट पेशेंट, इनपेशेंट और प्रयोगशाला विंग में रोगी देखभाल सेवाओं को मैन्युअल रूप से ऑपरेट करने को मजबूर होना पड़ा। इसको दुरुस्त करने के लिए इंडिया कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम (CERT-IN) दिल्ली पुलिस और गृह मंत्रालय जांच में जुटा है।
Latest news
Related news