Registration Will be Done on Covin App 3 जनवरी से होगा टीकाकरण,जानिए कब से होगा पंजीकरण

Registration Will be Done on Covin App 3 जनवरी से होगा टीकाकरण,जानिए कब से होगा पंजीकरण

इंडिया न्यूज़, नई दिल्ली:

Registration Will be Done on Covin App: देश में ओमिक्रॉन तेजी से फैलता जा रहा है। कोरोना के नए वेरिएंट की वजह से भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया पर कोरोना की तीसरी लहर का खतरा मंडरा रहा है। ऐसे में पीएम मोदी ने दो दिन पहले ही राष्ट्र को संबोधित करते हुए वयस्कों (Covid Vaccine for 12-15 Year Olds)को कोरोना रोधी टीका लगाने की बात कही थी। वहीं  फ्रंटलाइन वर्कर्स और गंभीर बीमारियों से लड़ रहे लोगों व बुजुर्गों को 10 जनवरी से प्रीकॉशन डोज लगाने की बात कही थी। ऐसे में अब जब पीएम ने घोषणा कर ही दी है तो आप के लिए यह जानना अति आवश्यक है कि व्यस्कों और 60 साल से अधिक आयु के बुजुर्गों को यह टीका कब और कैसे लगेगा।

टीकाकरण के लिए कब से शुरू होगा पंजीकरण When will the registration for vaccination start

Registration Will be Done on Covin App : केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना की बूस्टर डोज लेने वाले बुजुर्गों और (Covid-19 Vaccination to Kids)15 से 18 साल के वयस्कों के लिए कोविन ऐप शुरू किया है। जानकारी देते हुए ऐप के प्रमुख और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के सीईओ डॉक्टर आरएस शर्मा ने बताया कि इस ऐप पर केवल 18 साल से कम आयु के लोग ही इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए उन्हें पंजीकरण 1 जनवरी से शुरू कर दिया जाएगा लोग कोविन ऐप के माध्यम से स्लॉट बुक कर सकेंगे और 3 जनवरी से टीकाकरण शुरू कर दिया जाएगा। वहीं बुजुर्गों ेके लिए प्रीकॉशन डोज देने की  तिथि 10 जनवरी तय की गई है। (Booster Dose for 60 Plus People and Frontline Workers) वृद्धों के लिए स्लॉट दो दिन पहले खोले जाएंगे।

छोटे बच्चों के लिए कौन सा दस्तावेज मान्य होगा Which document will be valid for small children

Registration Will be Done on Covin App : देश में बड़ी संख्या (Covid-19 Vaccination to Kids)व्यसकों की है। जिन्हें भारत बायोटेक द्वारा निर्मित कोवाक्सिन और दूसरी जायडस कैडिला की जायकोव-डी वैक्सीन लगाई जाएगी।  ऐसे में किस आधार पर 15 से 18 साल के व्यसकों का पंजीकरण  किया जाएगा। कौन से दस्तावेज मान्य होंगे। विशेषज्ञ बताते हैं कि 15 से 18 साल के बच्चों के लिए उनके स्कूल के आईडी कार्ड को ही मान्य किया जाएगा। लेकिन अब बड़ा सवाल यह खड़ा होता है कि स्लम एरिया के बहुत  से बच्चे स्कूल नहीं जाते तो उनकी उम्र का पता किस आधार पर लगाया जाएगा। जिससे कि उन्हें वैक्सीन की डोज दी जा सके।

बूस्टर( तीसरी) डोज कौन सी होगी What will be the booster (third) dose?

 

जैसे कि सबको पता है देश में लोगों को दो ही वैक्सीन लगी हैं। विशेषज्ञ बताते हैं कि अभी इस बार में साफ नहीं है कि तीसरी डोज (Booster Dose for 60 Plus People and Frontline Workers) कौन सी कंपनी की होगी। अभी यह साफ नहीं है कि तीसरी डोज पहले लगी वैक्सीन में से कौन सी होगी। हालांकि एक बात साफ है कि पहली और दूसरी डोज में न्यूनतम 9 से 12 महीने का अंतर जरूर हो सकता है। जाहिर सी बात है कि तीसरी डोज को लेकर अभी असमंजस बना हुआ है। वहीं सरकार भी इस मुद्दे पर मंथन कर रही है।

Read More : Omicron Outbreak India Update 19 राज्यों में 598 केस

Connect With Us : Twitter Facebook

Latest news
Related news