Covid Vaccine Registration 15 से 18 साल के बच्चों का वैक्सीनेशन तीन जनवरी से, 60+ बुजुर्गों का प्रिकॉशन डोज 10 से शुरू

इंडिया न्यूज, नयी दिल्ली:

Covid Vaccine Registration : केंद्र सरकार ने कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के बढ़ते केसों को देखते हुए नए से साल (2022) से भारत में भी 15 से 18 साल के बच्चों का टीकाकरण शुरू करवाने पर कदम उठाया है, साथ ही सरकार ने यह भी कहा है कि 60 साल से अधिक उम्र के बुजुग जो कई गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं उनको तीसरा डोज भी दिया जायेगा। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने हाल ही में इस संबंध में गाइडलाइन जारी की है। आइए जानते हैं कि 60+ वालों को प्रिकॉशन डोज और 15-18 साल के बच्चों के वैक्सीनेशन के लिए जारी हुई है कौन सी गाइडलाइन हैं?।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, वे सभी बच्चे जो 15 साल से ज्यादा उम्र के हैं वे वैक्सीनेशन के लिए एलिजिबल हैं। दूसरे शब्दों में कहें तो 2007 या उसके पहले जन्म लेने वाले बच्चे 15-18 साल के वैक्सीनेशन के लिए एलिजिबल होंगे। वहीं 15-18 साल की उम्र के बच्चों को केवल भारत बायोटेक की कोवैक्सीन ही लगाई जाएगी।

बच्चे कैसे करें वैक्सीन की बुकिंग?

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि बच्चों के वैक्सीन की बुकिंग कोविन प्लेटफॉर्म के जरिए होगी। इसमें लाभार्थी कोविन पर अपने पहले से मौजूद अकाउंट के जरिए वैक्सीन के लिए खुद को रजिस्टर कर सकते हैं। साथ ही एक यूनीक मोबाइल नंबर के जरिए कोविन पर एक नया अकाउंट बनाकर भी लाभार्थी खुद को सेल्फ-रजिस्टर कर सकते हैं। बच्चे अपने माता-पिता के कोविन अकाउंट का इस्तेमाल करके वैक्सीन के लिए स्लॉट बुक कर सकते हैं। (Covid Vaccine Registration)

Child Vaccine in India

आपको बता दें कि सरकार की गाइडलाइन के मुताबिक, 15-18 साल के बच्चों के लिए कोविन के अलावा वेरिफायर/वैक्सीनेटर के जरिए आन-साइट भी वैक्सीन स्लॉट की बुकिंग की जा सकती है। वहीं वैक्सीन स्लॉट बुकिंग के लिए बच्चों को आधार और अन्य आइडेंटिटी प्रूफ के अलावा 10वीं के मार्कशीट के इस्तेमाल की अनुमति होगी।

एक जनवरी से होगी वैक्सीन बुकिंग?

बच्चे एक जनवरी 2022 से कोविन के जरिए वैक्सीन स्लॉट की बुकिंग कर सकते हैं। देश में इस उम्र के बच्चों के वैक्सीनेशन की शुरूआत तीन जनवरी से होने जा रही है। बताया जा रहा है कि 15 से 18 साल के सभी बच्चों का वैक्सीनेशन सरकारी वैक्सीन केंद्रों पर मुफ्त होगा। हालांकि, प्राइवेट हॉस्पिटल या निजी वैक्सीन केंद्रों पर जाने वालों को आवश्यक फीस का भुगतान करना होगा। (Covid Vaccine Registration)

प्रि-कॉशन डोज के लिए जारी गाइडलाइन

केंद्र सरकार ने 60+ को कोरोना से बचाव के लिए प्रि-कॉशन डोज के लिए भी गाइडलाइन जारी की है। देश में प्रि-कॉशन डोज की शुरूआत 10 जनवरी 2022 से की जानी है। देश में प्रिकॉशन डोज तीन प्रॉयोरिटी ग्रुप-हेल्थ वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स और कोमॉर्बिडिटी (कई बीमारियों से ग्रसित) वाले 60 वर्ष से ज्यादा की उम्र के लोगों को दी जानी है।

बताया जा रहा है कि प्रिकॉशन डोज कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाने की तारीख से नौ महीने (39 हफ्ते) बाद ही ली जा सकती है। जब भी संबंधित व्यक्ति प्रिकॉशन डोज के लिए एलिजिबल हो जाएगा, तो कोविन उसे टेक्स्ट मैसेज भेजकर ये सूचित करेगा कि उसकी तीसरा डोज या प्रिकॉशन डोज लगनी है। (Covid Vaccine Registration)

क्या कोई सर्टिफिकेट जरूरी है?

प्रिकॉशन डोज 60 साल से अधिक उम्र के केवल उन्हीं लोगों को लगाई जानी है, जो कोमॉर्बिडिटी (एक से अधिक बीमारियों) से पीड़ित हैं। सरकार ने कोमॉर्बिडिटी के तहत आने वाली बीमारियों की लिस्ट जारी कर दी है।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्पष्ट किया है कि कोमॉर्बिडिटी वाले 60 वर्ष और उससे अधिक उम्र के सभी व्यक्तियों को प्रिकॉशन डोज लेने के लिए डॉक्टर से कोई सर्टिफिकेट देने/प्रस्तुत करने की जरूरत नहीं होगी। हालांकि ऐसे लोगों को प्रिकॉशन डोज लेने से पहले डॉक्टर से सलाह लेने को कहा गया है। (Covid Vaccine Registration)

क्या वैक्सीन केंद्रों पर बुक होगी प्रिकॉशन डोज?

जी हां, प्रिकॉशन डोज लेने के लिए या तो आॅलनाइन स्लॉट बुक किए जा सकते हैं, या फिर वैक्सीन केंद्रों पर भी इसकी बुकिंग की जा सकती है। यानी, प्रिकॉशन डोज के लिए केवल कोविन पर ही स्लॉट बुक करना अनिवार्य नहीं है। हालांकि, प्रिकॉशन डोज लेने वाले व्यक्ति को कोविन के जरिए ही ये डोज देने वाले वैक्सीन केंद्रों की जानकारी मिल पाएगी। गाइडलाइन के मुताबिक, प्रिकॉशन डोज या तीसरी डोज लेने के बाद इसकी जानकारी लाभार्थी के वैक्सीन सर्टिफिकेट में दिखने लगेगी। (Covid Vaccine Registration)

क्या प्रिकॉशन डोज के लिए देना होगा पैसा?

जी नहीं, सरकार ने कहा है कि प्रिकॉशन डोज सरकारी वैक्सीन केंद्रों पर मुफ्त होगा। हालांकि, प्राइवेट हॉस्पिटल या वैक्सीन केंद्रों पर इसके लिए पैसे देने पड़ेंगे। सरकार ने कहा है कि सभी नागरिक मुफ्त कोरोना वैक्सीन के हकदार हैं, भले ही उनकी इनकम कितनी भी हो। सरकार ने लोगों से आग्रह करते हुए कहा है कि जो भुगतान करने में सक्षम हैं, उन्हें प्राइवेट अस्पतालों के वैक्सीन केंद्रों का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।

Covid Vaccine Registration

Also Read : When will 5G Services Start in India : 2022 से इन 13 शहरों को मिलेंगी 5G सेवाएं, स्पीड होगी शानदार

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

Latest news
Related news