Booster Dose For The Elderly: क्या बूस्टर डोज लेने के बाद साइड इफेक्ट होता है?

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली:
Booster Dose For The Elderly:
दुनियाभर में बढ़ते कोरोना केसों को देखते हुए देश में 10 जनवरी से गंभीर बीमारी से पीड़ित बुजुर्गों को कोरोना की तीसरी डोज प्रिकॉशन डोज (बूस्टर) देने की शुरुआत हो चुकी है। स्वास्थ्य कर्मी और फ्रंटलाइन वर्कर्स को भी वैक्सीन की तीसरी खुराक दी जा रही है। पहले दिन लगभग 10 लाख लोगों को प्रिकॉशन डोज दी गई। इस अभियान में लगभग 5.75 करोड़ लोगों को प्रिकॉशन डोज दिया जाएगा।

क्या कोई भी वैक्सीन बूस्टर डोज में लगवा सकते हैं?

नहीं, बूस्टर डोज में आपको वही वैक्सीन लगाई जाएगी, जिसकी दो खुराक आपको पहले लग चुकी हैं। जैसे, अगर आपने कोवैक्सिन की 2 खुराक ली हैं तो, बूस्टर डोज में भी कोवैक्सिन ही लगाई जाएगी। अगर आपने कोवीशील्ड की 2 खुराक ली हैं तो, इसी की बूस्टर डोज आपको लगेगी।

Booster Dose For The Elderly

क्या सभी बुजुर्गों को प्रिकॉशन डोज लगेगी?

  • नहीं, सभी बुजुर्ग कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक नहीं ले सकते हैं। प्रिकॉशन डोज (बूस्टर) सिर्फ उन बुजुर्गों को दी जाएगी जो, हार्ट डिसीज, डायबिटीज, किडनी या किसी अन्य गंभीर बीमारी से पीड़ित हों। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि, ऐसे बुजुर्ग अपने डॉक्टर की सलाह के बाद ही बूस्टर डोज लें।
  • कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज और बूस्टर खुराक के बीच नौ माह का गैप होना चाहिए। यानी अगर आपने नौ माह पहले दूसरी खुराक ली है तो आप बूस्टर डोज लगवा सकते हैं। अगर नौ माह से कम समय हुआ है तो, आप तीसरा डोज नहीं ले पाएंगे।

कौन से बुजुर्ग बूस्टर डोज ले सकते हैं?

जिन बुजुर्गों को बूस्टर डोज लगना है, उनके पास स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से एक मैसेज भेजा जा रहा है। ये मैसेज उन लोगों को दिया जा रहा हैं, जिन्होंने नौ माह पहले वैक्सीन की दूसरी डोज ले रखी है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि आपको मैसेज नहीं मिल रहा है तो, आप अपने दूसरे खुराक का समय देख लें।

प्रिकॉशन डोज (बूस्टर डोज) लेने वाले बुजुर्गों को अपने डॉक्टर से सलाह लेना जरूरी है, लेकिन डॉक्टर के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं पड़ेगी। यानी 60 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्ग डॉक्टर के सर्टिफिकेट के बगैर बूस्टर डोज ले सकते हैं।

क्या वैक्सीन में पैसे लगेंगे? (Will the vaccine cost money)

  • अगर आप कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक (बूस्टर डोज) सरकारी अस्पताल में लगवाने जाएंगे तो, आपको फ्री में वैक्सीन लगाई जाएगी। इसके लिए पैसे देने की जरूरत नहीं पड़ेगी।
  • वैक्सीनेशन सेंटर पर अपने साथ वोटर आईडी कार्ड, आधार कार्ड, पासपोर्ट या ड्राइविंग लाइसेंस लेकर जाएं। आप चाहें तो स्वास्थ्य मंत्रालय से मान्यता प्राप्त कोई भी डॉक्युमेंट ले जा सकते हैं।
  • पिछली बार की तरह इस बार भी वैक्सीनेशन सेंटर से बूस्टर डोज लगने के बाद एक सर्टिफिकेट आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आ जाएगा।

Booster Dose For The Elderly

वैक्सीनेशन के लिए खाली पेट ना जाएं ? (Do not go empty stomach for vaccination)

  • (Fever, Headache, Fatigue, Body aches) आपको बता दें कि ज्यादातर लोगों में हल्के साइड इफेक्ट होते हैं। जैसे कि बुखार, सिरदर्द, थकान, शरीर दर्द और सूजन जैसी दिक्कतें आ सकती हैं। डॉक्कर की सलाह से दवा ली जा सकती है।
  • वैक्सीनेशन के लिए खाली पेट ना जाएं। वैक्सीनेशन के बाद थोड़ी-थोड़ी देर पर खाना खाते रहें। खाना खाकर ही वैक्सीन लगवाएं। हाइड्रेशन के लिए बार- बार पानी पिंए। आसानी से पचने वाला खाना खाएं। धूम्रपान और शराब पीने से बचें।

Also Read : Omicron Threatens Everyone: कई देशों में ओमिक्रॉन बनता जा रहा डोमिनेंट वेरिएंट

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

Latest news
Related news