Rajasthan Political Crisis: सोनिया गांधी को लिखित रिपोर्ट सौंपेंगे मल्लिकार्जुन खड़गे-अजय माकन, विधायकों पर हो सकती कार्रवाई

Rajasthan Political Crisis: Mallikarjun Kharge-Ajay Maken to submit written report to Sonia Gandhi, action may be taken against MLAs

Rajasthan Political Crisis: राजस्थान के सियासी संकट के बीच कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और अजय माकन ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को एक लिखित रिपोर्ट सौंपेंगे। माकन के एक बयान के अनुसार यह माना जा रहा है कि गहलोत गुट के कुछ बागी विधायकों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई हो सकती है। वहीं अशोक गहलोत से राजस्थान के घटनाक्रम के बाद सोनिया गांधी नाराज बताई जा रही हैं।

आपको बता दें कि सोनिया गांधी ने अपने आवास पर कल कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं को बुलाया था। इसी के चलते अशोक गहलोत के कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने पर सवाल खड़ा हो रहा है। गहलोत गुट की बगावत के बाद राजस्थान में सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाने के लिए विधायक दल की बैठक नहीं हो पाई है।

माकन-खड़गे नहीं कर पाए विधायकों के साथ बैठक

बता दें कि पर्यवेक्षक के तौर पर राजस्थान गए अजय माकन और मल्लिकार्जुन खड़गे विधायकों के साथ एक भी बैठक नहीं कर पाए हैं। हालांकि, सीएम अशोक गहलोत ने इसे लेकर उनसे अफसोस भी जाहिर किया है। साथ ही कहा कि विधायक अब उनकी भी नहीं सुन रहे हैं। जिसके बाद सोमवार को दोनों नेता दिल्ली वापस लौट आए।

खड़गे-माकन ने सोनिया गांधी को सौंपी रिपोर्ट

दिल्ली वापस आने के बाद मल्लिकार्जुन खड़गे और अजय माकन सीधे 10 जनपथ आवास पर सोनिया गांधी से मुलाकात करने पहुंचे। इस दौरान सोनिया गांधी को दोनों नेताओं ने राजस्थान के घटनाक्रम को लेकर अपनी प्रारंभिक रिपोर्ट सौंपी। अजय माकन ने मीडिया से एक सवाल के जवाब में कहा कि “जब कांग्रेस विधायक दल की औपचारिक बैठक बुलाई जाती है और अगर उसके समानांतर कोई भी बैठक की जाती है। तो वह प्रथम दृष्टया अनुशासनहीनता है। यह बात हमने कांग्रेस अध्यक्ष के समक्ष रखी है। मैंने और खड़गे जी ने राजस्थान के घटनाक्रमों के बारे में सोनिया जी को विस्तार से बताया। कांग्रेस अध्यक्ष ने हमसे पूरे घटनाक्रम पर लिखित रिपोर्ट मांगी है। आज रात या कल सुबह तक हम यह रिपोर्ट दे देंगे।”

सोनिया गांधी से मिलीं प्रियंका वाड्रा

जानकारी दे दें कि अब तक हुई घटनाक्रम के बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने पर सवाल खड़ा हो गया। सबकी नजरें अब इसी पर टिकी हैं कि 30 सितंबर तक गहलोत नामांकन दाखिल करेंगे या फिर नहीं। इसके अलावा कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी राजस्थान के सियासी हलचल को लेकर सोनिया गांधी से मुलाकात की।

Also Read: राजस्थान में एक बार फिर रूख बदल सकता है मौसम, तापमान में हो सकती बढ़ोतरी

Latest news
Related news