भारत जोड़ो यात्रा को राहुल गांधी ने बताया सफल, अध्यक्ष पद को लेकर कही यह बात

Rahul Gandhi Press Conference: Rahul Gandhi told Bharat Jodo Yatra successful

Rahul Gandhi Press Conference: भारत जोड़ो यात्रा का आज 15वां दिन है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी के नेतृत्व में 7 सितंबर को केरल से ये यात्रा शुरू की गई। हाल ही में इस यात्रा का राहुल गांधी ने सफल बताया है। इस यात्रा के बीच राहुल गांधी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की है। इस पीसी में उन्होंने कहा कि “हमारी ये यात्रा केरल में सफल रही है। यात्रा की सफलता के पीछे कुछ आइडिया छिपे हैं। पहला आइडिया है कि भारत नफरत को पसंद नहीं करता है। देश में महंगाई चरम पर है, लेकिन बीजेपी और आरएसएस लगातार नफरत फैलाने का काम कर रहे हैं।”

यूपी में यात्रा को लेकर दिया ये जवाब

राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि “केरल की तरह बाकी राज्यों में भी भारत जोड़ो यात्रा सफल रहेगी। हम बिहार नहीं जा रहे हैं, हम गुजरात नहीं जा रहे हैं, हम बंगाल नहीं जा रहे हैं। यात्रा एक छोर से दूसरे छोर तक की है। हम पूरे भारत की यात्रा एकसाथ नहीं कर सकते हैं।” इसके साथ ही उत्तर प्रदेश में भारत जोड़ो यात्रा को लेकर कहा कि “इसे लेकर चिंता मत कीजिए हमें ये पता है कि वहां क्या करने की जरूरत है।”

अध्यक्ष पद को लेकर कही यह बात

इसके साथ ही राहुल गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर किए सवाल का जवाब देते हुए कहा कि “आपको जल्द पता चल जाएगा कि क्या होने वाला है। मैंने पहले ही अपना रुख साफ कर दिया है। कांग्रेस के कार्यकर्ताओं से मेरा सीधा संपर्क है। मीडिया के जरिए मुझे कुछ बताने की जरूरत नहीं है।”

कांग्रेस अध्यक्ष के उम्मीदवारों को सलाह देने के जवाब पर कहा कि “उनके लिए मैं कहना चाहूंगा कि आप एक ऐतिहासिक जगह लेने वाले हैं। यह सिर्फ एक संगठन की जगह नहीं है। ये एक विचारधारा है। जो कांग्रेस अध्यक्ष बनें उनके पास भारत की एक विचारधार हो।” उन्होंने कहा कि उन्हें इस बात की उम्मीद है कि उदयपुर चिंतन शिविर के संकल्प के अनुसार ‘एक व्यक्ति एक पद’ का ही पालन किया जाएगा।

बेरोजगारी के खिलाफ भारत जोड़ो यात्रा

प्रेस कॉन्फ्रेंस में राहुल गांधी ने कहा कि “हम आरएसएस और बीजेपी के बनाए गए नफरत के माहौल, कुछ लोगों के हाथों में सारी संपत्ति का कब्जा और बेरोजगारी के खिलाफ भारत जोड़ो यात्रा निकाल रहे हैं। इन सबसे देश का युवा बहुत परेशान हैं।”

जरूरी है कि विपक्ष करे संवाद 

इसके अलावा आगामी लोकसभा चुनाव के बारे में कहा कि “2024 से ज्यादा जरूरी सवाल है कि जिस तरह लोगों को बांटा जा रहा है उसे रोका जाए। मैं कहीं आइसक्रीम भी खा लूं तो आप 2024 से जोड़ देंगे। जरूरी है कि विपक्ष संवाद करे और एक साथ आए।”

Also Read: Congress President Election: कांग्रेस ने जारी की अधिसूचना, तारीखों को लेकर हुई घोषणा

Also Read: सुप्रीम कोर्ट ने पूरी की कर्नाटक हिजाब मामले में सुनवाई, पीठ ने सुरक्षित रखा फैसला

Latest news
Related news