हाथ थामे गहलोत-पायलट आए एक साथ, राहुल की यात्रा से पहले थम गई राजस्थान की रार !

इंडिया न्यूज़ (दिल्ली) : राजस्थान कांग्रेस में छिड़े गद्दार विवाद के बाद भारत जोड़ो यात्रा की तैयारियों की बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट पहली बार एक मंच पर नजर आए। वहीं बैठक के बाद लंबे अरसे बाद गहलोत और पायलट ने एक साथ मीडिया से बातचीत की। कांग्रेस संगठन महामंत्री केसी वेणुगोपाल के नेतृत्व में कांग्रेस वॉर रूम में हुई बैठक के बाद गहलोत ने कहा कि राजस्थान में सब एकजुट हैं, हम दोनों ही नेता पार्टी की एसेट हैं और दोनों मिलकर राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को सफल बनाएंगे। वहीं बगल में खड़े सचिन पायलट ने कहा कि राहुल गांधी की यात्रा का राजस्थान में पूरे उत्साह और ताकत के साथ स्वागत किया जाएगा। पायलट ने कहा कि यात्रा राज्य में 12 दिन बिताएगी जो सभी वर्गों के लोगों की भागीदारी के साथ एक ऐतिहासिक यात्रा होगी।

वहीं इससे पहले बैठक में पहुंचने पर पायलट-गहलोत ने एक-दूसरे का अभिवादन भी किया और दोनों ने एकजुटता का संदेश दिया। बता दें कि बैठक से पहले भी सीएम अशोक गहलोत ने राहुल गांधी एसेट वाली लाइन को दोहराया और कहा कि जब राहुल गांधी ने कह दिया है कि दोनों नेता एसेट हैं तो एसेट हैं, इसमें कहने को कुछ रह नहीं जाता है।

राजस्थान में राहुल की पदयात्रा होगी ऐतिहासिक :पायलट

जानकारी दें, पायलट ने बैठक के बाद कहा कि राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा एक सकारात्मक संदेश देकर जाएगी और झालावाड़ में राहुल गांधी का जोरदार स्वागत किया जाएगा। पायलट ने आगे कहा कि राहुल की यात्रा से बीजेपी घबरा गई है और उनके पास बोलने के लिए कुछ नहीं है। उन्होंने ये भी कहा कि मैं सभी कांग्रेस कार्यकर्ता से अपील करता हूं हम सभी यात्रा को कामयाब बनाएंगे।

गहलोत ने कहा ‘हम साथ -साथ हैं’

गहलोत ने भारत जोड़ो यात्रा को लेकर कहा कि भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी देश में महंगाई, बेरोजगारी समेत अनेको मुद्दों लेकर राहुल गांधी निकले हैं जिनका सभी जगह भव्य स्वागत किया जा रहा है। गहलोत ने कहा कि यात्रा से देश के अंदर चल रही चुनौतियों के खिलाफ एक माहौल बना है।

वहीं एकजुटता का संदेश देते हुए गहलोत ने फिर दोहराया कि जब राहुल गांधी ने हम दोनों नेताओं को एसेट बता दिया है तो हमारी पार्टी का नियम रहा है नेता का संदेश सभी मानते हैं। गहलोत ने ये भी कहा कि हमारे सामने अब चुनौती 2023 की है और हम सभी एकजुट होकर चुनाव लड़ेंगे।

बयानबाजी पर कारवाई होगी वेणुगोपाल

वहीं बैठक के बाद केसी वेणुगोपाल ने कहा कि राजस्थान में पार्टी नेताओं को आपसी बयानबाजी नहीं करने की एडवाइजरी जारी की गई है लेकिन फिर भी किसने बयान दिया है उसको लेकर मैंने राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष से रिपोर्ट मांगी है जिसके बाद आलाकमान एक्शन लेगा।

 

Latest news
Related news