Harsha Engineers IPO : आज होगा अलॉट, जिसे मिला उसकी लॉटरी, लिस्टिंग डे पर दे सकता है 75 प्रतिशत रिटर्न

इंडिया न्यूज, Harsha Engineers IPO Allotment : हर्षा इंजीनियर्स इंटरनेशनल लिमिटेड का आईपीओ आज शाम को अलॉट होगा। जिस भी निवेशक को इसके शेयर मिलेंगे, उन्हें लिस्टिंग डे पर ही 70 प्रतिशत से ज्यादा का रिटर्न मिल सकता है। क्योंकि इसका जीएमपी आज भी 240 रुपए चल रहा है।

यानि कि यह 330 रुपए के अपर प्राइस बैंड के हिसाम से 70 प्रतिशत से भी ज्यादा है। हालांकि ऐसा 100 प्रतिशत नहीं होता है कि जो जीएमपी चल रहा है और लिस्टिंग भी उसी हिसाब से हो। लेकिन जिस हिसाब से इस आईपीओ को निवेशकों का रिस्पांस मिला है, सभी फैक्टर ये दर्शा रहे हैं कि यह आईपीओ लिस्टिंग डे पर ही बम्पर कमाई करवा सकता है।

2022 का सबसे ज्यादा सब्सक्रिप्शन वाला आईपीओ

बता दें कि हर्षा इंजीनियर्स इंटरनेशनल लिमिटेड का आईपीओ 2022 में सबसे ज्यादा सब्सक्राइब होने वाला आईपीओ है। यह इश्यू सब्सक्रिप्शन के आखिरी दिन 75 गुना भरा था। इस इश्यू का 50 फीसदी हिस्सा क्वॉलीफाइड इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स यानी क्यूआईपी के लिए आरक्षित रखा गया है।

यह हिस्सा 178.26 गुना भरा है। वहीं इश्यू का 35 फीसदी हिस्सा रिटेल इनवेस्टर्स के लिए था जोकि 71.27 गुना भरा है। इसके पहले साल 2022 में सबसे ज्यादा सब्सक्राइब होने वाला आईपीओ Dreamfolks Services Limited रहा था और यह करीब 56 गुना भरा था।

314 से 330 प्रति इक्विटी शेयर

जानना जरूरी है कि इस आईपीओ में एक लॉट 45 शेयरों का है। कंपनी ने आईपीओ का प्राइस बैंड 314 से 330 प्रति इक्विटी शेयर तय किया है।इस आईपीओ में 455 करोड़ रुपये के नए इश्यू जारी होंगे। वहीं शेयरहोल्डर्स और प्रमोटर्स 300 करोड़ रुपये का आफर फॉर सेल भी लाएंगे। आईपीओ लाने का कंपनी की ओर से यह दूसरा प्रयास है। इससे पहले हर्ष इंजीनियरिंग ने अगस्त, 2018 में सेबी के पास ड्राफ्ट पेपर जमा कराए थे।

कंपनी के बारे में डिटेल

1986 में राजेंद्र शाह और हरीश रंगवाला ने हर्ष इंजीनियर्स इंटरनेशनल कंपनी की स्थापना की थी। कंपनी की गुजरात में 3 और चीन व रोमानिया में एक-एक प्रोडेक्शन यूनिट्स है। कंपनी की 99.7 फीसदी हिस्सेदारी प्रमोटर्स के पास है। बीते फाइनेंशियल ईयर में कंपनी ने 91.94 करोड़ रुपये का प्रॉफिट के साथ कुल 1,321.48 करोड़ रुपये का रेवेन्यू हासिल किया था, जो बीते साल की तुलना में 45.44 प्रतिशत ज्यादा है। हालांकि इस दौरान कंपनी का कर्ज 322.08 करोड़ रुपये से बढ़कर 356.59 करोड़ रुपए हो गया है।

ये भी पढ़ें : ADB ने घटाया भारत में जीडीपी ग्रोथ अनुमान, 7.2 की बजाय अब 7 प्रतिशत वृद्धि का अनुमान

ये भी पढ़ें : फेड के निर्णय से पहले दुनियाभर के बाजार सतर्क, भारतीय शेयर बाजार फ्लैट

ये भी पढ़ें : अमेरिकी फेडरल रिजर्व के फैसले से तय होगी शेयर बाजार की चाल

ये भी पढ़ें : मुफ्त में हवाई यात्रा करने का मौका, 25 सितम्बर तक बुक करवाएं टिकट

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube
Latest news
Related news