भारतीय कंपनियों का विदेशी निवेश 59 प्रतिशत घटा, जानिए कौन सी कंपनी रही सबसे आगे

इंडिया न्यूज, Foreign Investment : भारतीय कंपनियों का विदेश में किए जाने वाले निवेश में पिछले काफी समय से गिरावट आ रही है। आरबीआई की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक अगस्त में सालाना आधार पर भारतीय कंपनियों का विदेश में निवेश 59 प्रतिशत घटकर 1.03 अरब डॉलर रह गया है। आरबीआई ने बताया कि अगस्त महीने में भारतीय कंपनियों ने अपने विदेशी उद्यमों में कुल 102.76 करोड़ डॉलर की निवेश प्रतिबद्धता जताई जबकि एक साल पहले की इसी अवधि में यह आंकड़ा 250.09 करोड़ डॉलर रहा था।

ये भी पढ़ें : तमिलनाड मर्केंटाइल बैंक की स्टॉक मार्केट पर लिस्टिंग कमजोर

आरबीआई के आंकड़े बताते हैं कि भारतीय कंपनियों ने जुलाई, 2022 में 111.66 करोड़ डॉलर का निवेश विदेशी उद्यमों में किया था। भारतीय कंपनियों की तरफ से अगस्त में किए गए कुल विदेशी निवेश में सर्वाधिक 58.56 करोड़ डॉलर का निवेश इक्विटी के रूप में किया गया। वहीं गारंटी के तौर पर यह निवेश 26.66 करोड़ डॉलर रहा जबकि बाकी 17.53 करोड़ डॉलर का निवेश ऋण के रूप में रहा।

लेंसकार्ट सॉल्यूशंस ने किया सबसे ज्यादा निवेश

रिजर्व बैंक आॅफ इंडिया ने बताया कि हालांकि यह आंकड़ा अस्थायी है, क्योंकि अधिकृत बैंकों की तरफ से आॅनलाइन जानकारी मिलने के बाद इसमें सुधार होने के भी आसार हैं। भारतीय कंपनियों की तरफ से विदेशी निवेश करने के मामले में लेंसकार्ट सॉल्यूशंस सबसे आगे रही जिसने सिंगापुर स्थित अपनी अनुषंगी में 31.99 करोड़ डॉलर का इक्विटी निवेश किया। वहीं ग्लेनमार्क फार्मास्युटिकल्स ने स्विट्जरलैंड में अपनी अनुषंगी में गारंटी के रूप में 10 करोड़ डॉलर का निवेश किया।

ये भी पढ़ें : क्रूड आयल निर्यातकों को राहत, Windfall Tax में 2800 रुपए प्रति टन की कटौती

ये भी पढ़ें : दुनिया के अमीरों में गौतम अडाणी का बजा डंका, बने दूसरे सबसे अमीर शख्स

ये भी पढ़ें : 22 सितम्बर से बंद हो जाएगा ये बैंक, फटाफट निकाल लें अपनी रकम

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube
Latest news
Related news