हवाई यात्रा पर महंगाई का ग्रहण, जेट फ्यूल की कीमतों में 16.3 फीसदी का उछाल

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली:
हवाई यात्रा करने वालों के लिए जरूरी खबर है। जल्द ही आपकी हवाई यात्रा महंगी हो सकती है। इसका कारण है एयर टर्बाइन फ्यूल यानि कि एटीएफ की कीमतों में उछाल आना। दरअसल, देश में एक बार फिर से एटीएफ की कीमतें 16.3 फीसदी बढ़ी हैं। यह मार्च 2022 के बाद से अब तक की सबसे बड़ी बढ़ोतरी है।

इसके साथ ही जेट फ्यूल का भाव नए रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया है। इसका असर हवाई यात्रा पर पड़ सकता है। रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले 6 महीने में हवाई इंधन की कीमतें 91 फीसदी तक बढ़ चुकी हैं। ताजा बढ़ी हुई कीमतों के बाद राजधानी दिल्ली में एटीएफ की कीमत 1.41 लाख रुपये प्रति किलोलीटर हो गई है।

16 मार्च से लगातार बढ़ रही एटीएफ की कीमतें

Jet Fuel Price

गौरतलब है कि विमान संचालन में एटीएफ पर होने वाले खर्च की बड़ी हिस्सेदारी होती है, जो 40 फीसदी के करीब है। ऐसे में इसमें इजाफे से यात्री किराए में वृद्धि की संभावना भी बढ़ जाती है। इस साल 16 मार्च को एटीएफ में सबसे ज्यादा 18.3 फीसदी की बढ़ोतरी की गई थी। इसके बाद 1 अप्रैल को एटीएफ की कीमतें 2 फीसदी बढ़ी। फिर 16 अप्रैल को 0.2 फीसदी और एक मई को 3.22 फीसदी की बढ़ोतरी हुई थी। ऐसी संभावना है कि आने वाले दिनों में हवाई सफर और भी महंगा हो सकता है।

बढ़ सकता है 10 से 15 फीसदी किराया

एटीएफ की कीमतों में आए उछाल के बाद स्पाइसजेट के सीएमडी अजय सिंह ने कहा कि जेट फ्यूल की कीमतों में तेज वृद्धि और रुपये के मूल्यह्रास ने घरेलू एयरलाइनों के पास किराये में वृद्धि के अलावा ओर कोई विकल्प नहीं छोड़ा है। अत: हमारा मानना है कि किराये में न्यूनतम 10 से 15 फीसदी की वृद्धि की तत्काल आवश्यकता है, ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि संचालन की लागत बेहतर बनी रहे।

ये भी पढ़ें : शेयर बाजार में थमा गिरावट का दौर, सेंसेक्स 220 अंक चढ़ा

ये भी पढ़े : सोने चांदी की कीमतों में आया उछाल, जानिए आप पर कितना असर पड़ेगा

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

ये भी पढ़े : फिर से बढ़ सकते हैं पेट्रोल ओर डीजल के भाव, ये रही बड़ी वजह

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

SHARE
Latest news
Related news