सावधान! आपकी इन ग़लतियों से फट सकती है मोबाइल बैटरी

(इंडिया न्यूज,Careful! These mistakes can burst the mobile battery): आपने अक्सर मोबाइल फोन की बैटरी फटने की खबर सुनी होगी। मोबाइल की बैटरी फटने के कारण अक्सर बड़ी दुर्घटना होने की ख़बरें भी आती हैं। इन मामलों में और पिछले के भी अधिकतर मामलों में मोबाइल कंपनियां बैटरी फटने में यूजर्स की ही गलती बताती है। फोन की बैटरी फटने के कई कारण हो सकते हैं। इसमें एक है कंपनी द्वारा ठीक से क्वॉलिटी टेस्ट न करना, लेकिन यह कुछ मामलों में ही होता है। अधिकतर केस में उपयोगकर्ता द्वारा की गई गलतियां ही हादसे के लिए जिम्मेदार होती हैं। आइए आज के इस लेख में बताते हैं कि वो कौन से कारण हैं जिनसे फोन की बैटरी फट जाती है, और कैसे इस दुर्घना से बचा जा सकता है।

जरूरत से ज्यादा फोन चार्च करना या रातभर चार्जिंग पर लगाकर छोड़ना

इस मामले जो सबसे पहली बात निकलकर आती है वो है फोन को चार्ज पर लगाकर घंटों छोड़ देना। कई लोग रात को सोते वक्त मोबाइल को चार्ज पर लगाते हैं और सुबह हटाते हैं। ये दोनों ही स्थितियां खतरनाक हो सकती हैं। ओवरचार्जिंग से फोन में ओवरहीटिंग और शॉर्टसर्किट होने का खतरा रहता है। इससे मोबाइल फट सकता है।

लोकल चार्जर का इस्तेमाल

अगर आप अपने फोन को लोकल या फिर किसी दूसरे चार्जर से चार्ज करते हैं तो इस आदत को बदल डालिए। फोन के फटने का यह बड़ा कारण है। मोबाइल कंपनियां लगातार इसे लेकर चेतावनी देती रहती हैं। दरअसल थर्ड पार्टी चार्जर्स में मोबाइल के लिए आवश्यक स्पेस की कमी होती है। ऐसे में ये फोन को चार्जिंग के दौरान गर्म कर देते हैं। इसके अलावा ये मोबाइल के इंटरनल कंपोनेंट्स को भी नुकसान पहुंचाते हैं। इससे फोन के फटने का खतरा रहता है।

बैटरी का डैमेज होना

एक्सपर्टस की मानें तो फोन की बैटरी फटने का ये भी एक बड़ा कारण है। कई बार हमारा फोन गिरता है तो इससे बैटरी खराब हो जाती है। इससे मोबाइल में शॉर्ट सर्किट और ओवरहीटिंग जैसी समस्या आने लगती है। इसके अलावा बैटरी फूलने भी लगती है, जो कुछ समय बाद ही फट सकती है। इसलिए फोन गिरने के बाद उसके बैक पर जरूर ध्यान दें।

प्रोसेसर का ओवरलोड होना

फोन में मल्टी टास्किंग और ज्यादा गेम खेलने से प्रोसेसर ओवरलोड होकर मोबाइल को गर्म कर देता है। जिससे मोबाइल के फटने का खतरा बढ़ जाता है। आपकी सेफ्टी के लिए जरूरी है कि आप बीच-बीच में मोबाइल का टेंपरेचर चेक करते रहें। अगर फोन ओवरहीट हो जाये तो कुछ देर के लिए ऐप यूज न करें।

बैटरी पानी या धूप के संपर्क में आने पर

अपने फोन को सीधे धूप या पानी से बचाकर रखें फोन की बैटरी धूप या पानी के संपर्क में सीधे आ जाए तो इससे उसके फटने का खतरा बढ़ जाता है। दरअसल ज्यादा हीट होने पर सेल्स अनस्टेबल हो जाती है और फिर ऑक्सीजन और कार्बन डाइऑक्साइड जैसे गैसों का उत्पादन कर सकती है, जिससे बैटरी फूलकर फट सकती है।

Latest news
Related news